Home देहरादून तीन दिवसीय बीएसएफ पैरा ग्लाइडिंग फेस्टिवल शुरू

तीन दिवसीय बीएसएफ पैरा ग्लाइडिंग फेस्टिवल शुरू

देहरादून।स्वर्णिम विजय वर्ष (1971 युद्ध विजय की 50वीं वर्षगांठ) के उपलक्ष्य में मालदेवता में तीन दिवसीय बीएसएफ पैरा ग्लाइडिंग फेस्टिवल गुरुवार से शुरू हो गया। बीएसएफ इंस्टीट्यूट आफ एडवेंचर एंड एडवांस ट्रेनिंग,डोईवाला एवं उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम का पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने शुभारम्भ किया।उन्होंने कहा कि बीएसएफ देश का गौरवशाली बल है।बीएसएफ के जवान भारत-पाक और भारत-बंग्लादेश की अत्यंत महत्वपूर्ण सीमा पर तैनात हैं। उन्होंने कहा कि मै खुद बीएसएफ में चार वर्ष रहा। साहसिक व अनुशासित बल होने के साथ ही इसका एक मानवीय चेहरा भी है। बीएसएफ निरंतर सामाजिक सरोकारों से जुड़ी रही है। केदारनाथ आपदा का उल्लेख करते उन्होंने कहा कि आपदा प्रभावितों की मदद के लिए बीएसएफ के सभी कर्मियों ने अपने एक दिन का वेतन दिया,जिससे 16 करोड़ की धनराशि एकत्र हुई।इसमें दस करोड़ रुपये सीएम राहत कोष में दिये गए।पांच-पांच लाख रुपये आपदा में शहीद उत्तराखंड पुलिस के पंद्रह जवानों के स्वजन को दिये गए।वहीं शेष रकम से आपदाग्रस्त गांव में राहत एवं पुनर्वास कार्य किए गए।उन्होंने पैरा ग्लाइडिंग गतिविधियों को वृहद स्तर पर ले जाने पर जोर दिया।

बीएसएफ इंस्टीट्यूट आफ एडवेंचर एंड एडवांस ट्रेनिंग के कमान्डेंट महेश कुमार नेगी ने कहा कि बीएसएफ साहसिक खेलों के माध्यम से 1971 युद्ध की वीर गाथा और वीर सैनिकों के बलिदान को आम नागरिकों, खासकर युवा पीढी तक पहुंचाने के लिए संकल्पित है। उन्होंने कहा कि इस शौर्य पर्व में सीमा सुरक्षा बल ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।जिसे तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी व जनरल सैम मानेकशा ने भी सराहा।इस अभियान में भारतीय सेना व सीमा सुरक्षा बल ने अदम्य साहस का प्रदर्शन किया।
बंग्ला भाषियों की क्रूर हत्याओं व मानवाधिकार हनन पर रोक लगा पूर्वी पाकिस्तान को एक स्वतंत्र देश बंग्लादेश के रूप में मुक्त कराया।इस विजय के पचास वर्ष पूरे होने पर देश स्वर्णिम विजय वर्ष मना रहा है।उन्होंने बताया कि इस युद्ध में सीमा सुरक्षा बल को एक महावीर चक्र,11 वीर चक्र मिले।

बता दें,इस उत्सव में सीमा सुरक्षा बल के कार्मिकों के अलावा आम नागरिक भी हिस्सा ले रहे हैं।सीमा सुरक्षा बल विगत कई वर्षों से उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के साथ मिलकर यह उत्सव मना रहा है।जिसमें राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर के पैरा ग्लाडर्स ने हिस्सा लिया है।इस साल यह उत्सव 1971 युद्ध के वीरों के साहस व बलिदान को समर्पित है।जिसमें एनसीसी कैडेट व विभिन्न स्कूल-कालेज के छात्र भी पहुंच रहे हैं।उद्घाटन कार्यक्रम में डिप्टी कमान्डेंट आरएन भाटी,मनोज सुंद्रियाल,पीके जोशी,एसके त्यागी,सहायक कमान्डेंट पुनित तोमर,पवन सिंह पंवार,चिकित्साधिकारी डा रजनीकांत सिंह आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शादी का झांसा देकर दुष्कर्म, आरोपित गिरफ्तार

देहरादून। फ्लैट में सफाई करने वाली एक युवती ने युवक पर शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपित...

मुख्यमंत्री ने राहत सामग्री के वाहनों को किया रवाना

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में भाजपा उत्तराखंड प्रकोष्ठ, फरीदाबाद व हरियाणा प्रोग्रेसिव स्कूल कांफ्रेंस सहित...

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने श्री दरबार साहिब में टेका मत्था

श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज से की शिष्टाचार भेंट देहरादून। कृषि एवम् उद्यान मंत्री, उत्तराखण्ड गणेश जोशी ने रविवार को श्री दरबार साहिब में मत्था...

मुख्यमंत्री ने किया मिशन ड्रग्स फ्री देवभूमि का शुभारंभ, बोले – युवा नशे को दृढ़ता से कहें ना

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज जिला कारागार, सुद्धोवाला देहरादून में मिशन ड्रग्स फ्री देवभूमि का शुभारम्भ करते हुए प्रदेशवासियों विशेषकर राज्य के...

UKPSC : उत्तराखंड पटवारी/लेखपाल भर्ती परीक्षा-2022 के प्रवेश-पत्र जारी,इस दिन होगी परीक्षा

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग (UKPSC) ने राजस्व उप निरीक्षक (पटवारी / लेखपाल) परीक्षा -2022 के लिए प्रवेश पत्र जारी कर दिया है। उम्मीदवार अपने...

राज्यपाल ने गणतन्त्र दिवस परेड में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले एनसीसी कैडेट्स को किया सम्मानित

देहरादून। राज्यपाल लेफ़्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि.) ने गुरुवार को राजभवन ऑडिटोरियम में एनसीसी निदेशालय उत्तराखण्ड द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में...

सूचना आयुक्त ने श्री दरबार साहिब में टेका मत्था

देहरादून। सूचना आयुक्त उत्तराखण्ड योगेश भट्ट ने बुधवार को श्री दरबार साहिब में मत्था टेका। उन्होने श्री दरबार साहिब के श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी...

उत्तराखंड की झांकी को देश में प्रथम स्थान के लिए किया गया पुरस्कृत

कर्तव्य पथ, नई दिल्ली गणतंत्र दिवस समारोह में उत्तराखण्ड राज्य की ओर से “मानसखण्ड” की झांकी प्रदर्शित की गई थी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के...

जौनसार बावर के प्रसिद्ध लोक कलाकार डॉ. नंद लाल भारती को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का ‘कला सारथी’ पुरस्कार मिलने पर किया सम्मानित

देहरादून। जौनसार बावर के प्रसिद्ध लोक कलाकार डॉ. नंद लाल भारती को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का ‘कला सारथी’ पुरस्कार से सम्मानित होने पर उन्हें आज...

उत्तराखंड की झांकी ‘मानसखंड’ को मिला प्रथम स्थान

देहरादून। गणतंत्र दिवस परेड में उत्तराखंड की झांकी ‘मानसखंड’ को देशभर की झांकियों में प्रथम स्थान मिला है। सूचना विभाग ने संयुक्त निदेशक केएस...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई