Home देहरादून पद्मश्री डॉ. संजय ने उपराष्ट्रपति को भेंट किया अपना प्रथम काव्य संग्रह

पद्मश्री डॉ. संजय ने उपराष्ट्रपति को भेंट किया अपना प्रथम काव्य संग्रह

देहरादून। पद्मश्री डॉ. बीकेएस संजय ने अपने प्रथम काव्य संग्रह “उपहार संदेश का“ की प्रथम प्रति भारत के उपराष्ट्रपति एम. वैंकैया नायडू को भेंट की। यह काव्य संकलन भारतीय ज्ञानपीठ के द्वारा प्रकाशित किया गया है। इसकी भाषा की सरलता पाठकों को अपनी ओर आकर्षित करती है और वास्तविकता के बीच प्रकृति, प्रेम, संबंध, विज्ञान और मातृत्व से हमारा परिचय कराती है। डॉ. संजय के द्वारा कविता के रूप में उपहार संदेश का जो संकलन प्रकाशित हुआ। उसके बारे में उन्होंने बताया कि इस संग्रह की सभी कविताओं के पीछे एक कहानी है और आगे एक संदेश है। कविता के माध्यम से जो संदेश पद्म श्री डॉ. संजय ने समाज के लिए दिया वह समाज के लिए एक अनोखा उपहार है।

इनकी कविताऐं जैसे कि फैलाव, भूख, पुस्तकें, मौन भी एक भाषा है, नाता, पूर्णता एवं संवाद कविताऐं न केवल कवि के विचारधारा को दर्शाती है बल्कि समाज के प्रति उसका चिन्तन भी दर्शाती है और लगता है कि कवि के मन में समाज में बदलाव लाने की अत्यंत तीव्र इच्छा है। कवि का मानना है समाज में बदलाव लाने के लिए विचारों में बदलाव, आपसी सहयोग एवं संवाद ही किसी भी बदलाव के मूलमंत्र हैं।
अपने कार्यक्रम के दौरान डॉ. संजय ने उपराष्ट्रपति को अपने काव्य संकलन की एक कविता “सपने हमारे और आपके“ पढ़ी। जिसकी उपराष्ट्रपति ने भूरि-भूरि प्रशंसा की और डॉ. संजय के प्रथम काव्य संकलन के लिए बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्य एवं अच्छे स्वास्थ्य के लिए शुभकामनाऐं दी। इस कार्यक्रम में डॉ. संजय के अलावा वरिष्ठ साहित्यकार पद्म डॉ. श्याम सिंह शशि, प्रबंध न्यासी, भारतीय ज्ञानपीठ अखिलेश जैन, शिक्षाविद् एवं साहित्यकार नरेन्द्र सिंह नीहार एवं ऑर्थोपीडिक एवं स्पाइन सर्जन डॉ. गौरव संजय मौजूद रहे।
पद्मश्री डॉ. बीकेएस संजय एक विश्व के प्रतिष्ठित ऑर्थोपीडिक एवं स्पाइन सर्जन हैं। जिनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, लिम्का, इंडिया, इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में उल्लेखित किया जा चुका है।
डॉ. बी. के. एस. संजय बहुमुखी प्रतिभा के धनी व्यक्ति हैं। जो चिकित्सीय कार्य एवं समाज सेवा कार्यों के लिए जाने जाते हैं। इनके इन्हीं उत्कृष्ट कार्यांे को दृष्टिगत रखते हुए भारत सरकार के द्वारा 2021 में डॉ. संजय को भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मश्री से अलंकृत किया जा चुका हैै।
डॉ. संजय न केवल अच्छे सर्जन एवं समाज सेवक हैं बल्कि वह उच्च कोटि के लेखक, वक्ता एवं कॉलमनिस्ट हैं। डॉ. संजय का कविता के बारे में रूचि और काव्य संग्रह का संकलन एक सर्जन के लिए अनोखा काम है। डॉ. संजय अपने हाथों से सर्जरी के क्षेत्र में ही सर्जन का काम ही नहीं करते बल्कि वह शब्दों का भी अच्छे ढ़ंग से सृजन करते हैं जिसको उनके काव्य संग्रह में अच्छे ढ़ंग से दर्शाया गया हैै।

——————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

डीएम ने देखी कोषागार की व्यवस्थाएं

देहरादून। जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका ने कोषागार देहरादून का निरीक्षण करते हुए डॅबल लाॅक में स्टाम्प भण्डारण का वार्षिक भौतिक सत्यापन किया। इस दौरान उन्होंने...

दून विश्वविद्यालय कुलपति ने की सीएम से भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित कैम्प कार्यालय में कुलपति दून विश्वविद्यालय प्रो0 सुरेखा डंगवाल ने भेंट की।  उन्होंने मुख्यमंत्री...

बारिश ने फिर कराया ठंड का अहसास

देहरादून। प्रदेश में एक बार फिर से मौसम ने ठंड का अहसास कराया। वहीं तापमान में गिरावट दर्ज की गई।  बृहस्पतिवार रात मौसम ने...

स्वर्णिमा ने बॉलीवुड में रखा कदम

देहरादून। उत्तराखंड की बेटी स्वर्णिमा उपाध्याय ने जाने माने फ़िल्म अभिनेता और फ़िल्म निर्माता अजय देवगन की फिल्म भोला से बॉलीवुड में कदम रखकर...

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरूकुल कांगड़ी सम विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में किया प्रतिभाग

देहरादून। केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने गुरूकुल कांगड़ी सम विश्वविद्यालय हरिद्वार के 113वें दीक्षांत समारोह कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर...

प्रदेश सरकार की नई पर्यटन नीति निजी निवेशकों को करेगी आकर्षित : सतपाल महाराज

नई दिल्ली/देहरादून । उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि प्रदेश सरकार की नई पर्यटन नीति निजी निवेशकों को आकर्षित करेगी। इससे...

रामनवमी पर सीएम ने प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रामनवमी के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को बधाई व शुभकामनाएं दी है। रामनवमी की पूर्व संध्या पर जारी...

एनसीसी कैडेट्स श्री दरबार साहिब में सम्मानित

श्रीमहंत देवेन्द्र दास महाराज ने नकद पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित देहरादून। गणतंत्र दिवस की परेड में उत्तराखण्ड कंटीजैंट का प्रतिनिधित्व करने वाले...

मुख्यमंत्री धामी पहुंचे रामनगर, किया पैदल निरीक्षण

उत्तराखण्ड के रामनगर में प्रथम जी-20 सम्मेलन के अवसर पर मंगलवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा क्षेत्र का भ्रमण किया गया।...

जी-20 सम्मेलन : पारंपरिक अंदाज में हुआ प्रतिनिधियों का स्वागत

जी-20 सम्मेलन के अंतर्गत रामनगर (जनपद नैनीताल) में आयोजित होने वाली चीफ साइंटिफिक एडवाइजर्स की बैठक में भाग लेने के लिए 17 देशों के...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई