Home हेल्थ डाॅक्टरों ने मरीज़ की आहार नाल से निकाला ब्लेड

डाॅक्टरों ने मरीज़ की आहार नाल से निकाला ब्लेड

मरीज़ को मिला नया जीवन, कहा थैंक्यू डाॅक्टर्स थैंक्यू इंन्दिरेश अस्पताल
सावधानी बरतें खाने पीने के दौरान लापरवाही खतरनाक भी हो सकती है
देहरादून। जाको राके साइंया मार सके न कोई। डाॅक्टर को यूं ही धरती का भगवान नहीं कहा जाता है। यहां यह कहना इसलिए भी उचित होगा क्योंकि श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के डाॅक्टरों ने एक मरीज़ की खाने की नाल में फंसे ब्लेड को निकालकर मरीज़ को नया जीवन दिया है। आपरेशन के द्वारा डाॅक्टरों ने ब्लेड को आहार नाल से सफलतापूर्वक बाहर निकाला। आॅपरेशन के बाद मरीज़ बिल्कुल ठीक है। यह जानकारी श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के नाक कान गला रोग विभाग के डाॅ शरद हरनोट ने दी।
मामला कुछ इस प्रकार से है कि 26 वर्षीक पुरुष भूलवश खाने के साथ रेज़र ब्लेड निगल गए। खाने की नली में फंसे धारदार ब्लेड की वजह से मरीज़ के जीवन पर बन आई। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के नाक कान गला रोग विभाग के डाॅक्टरों ने प्रारम्भिक जाॅचा में पाया कि ब्लेड श्वास नली के निकट महत्वपूर्ण खून की सबसे बड़ी नस के काफी नजदीक अटकी हुई है।
श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के नाक कान गला रोग विभाग के डॉक्टरों ने 26 वर्षीय पुरुष की खाना खाने की नली में फसे रेजर ब्लेड को निकालकर मरीज को नया जीवन दिया। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के असिस्टेंट प्रोफेसर व ईएनटी सर्जन डॉक्टर शरद हरनोट ने सीनियर रेजिडेंट डॉ. फातमा अंजुम के साथ मरीज की सफल सर्जरी की और एंडोस्कोपी द्वारा पूर्ण रेजर ब्लेड को खाने की नली से बाहर निकाला। मरीज के माता पिता ने डॉक्टरों व श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल का आभार जताया। ऑपरेशन अत्यधिक जटिल था। ऑपरेशन के बाद मरीज को नाक की नलकी द्वारा उपचार एवम खाना शुरू किया गया। ऑपरेशन के बाद मरीज बिल्कुल ठीक है।


डॉ. शरद हरनोट ने बताया कि 26 वर्षीय मरीज के परिजन को श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में उपचार के लिए लेकर आए। मरीज के पिता ने जानकारी दी कि अज्ञात परिस्थिति में मरीज ने रेजर ब्लेड को निगल लिया। उन्होंने बताया कि वो उत्तराखण्ड के कई अन्य बड़े अस्पतालों में उपचार के लिए गए लेकिन मरीज की समस्या का समाधान नहीं हुआ और रेफर कर दिया गया। इसके बाद वह अपने पुत्र को लेकर श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल आए। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के असिस्टेंट प्रोफेसर व ईएनटी सर्जन डॉक्टर शरद हरनोट ने सीनियर रेजिडेंट डॉ. फातमा अंजुम के साथ मरीज की सफल सर्जरी की और एंडोस्कोपी द्वारा पूर्ण रेजर ब्लेड को खाने की नली से बाहर निकाला। मरीज के माता पिता ने डॉक्टरों व श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल का आभार जताया।
डॉ शरद हरनोट ने मरीज एवम माता पिता से बात करी और भविष्य में ऐसा दोबारा नहीं करने के लिए काफी काउंसलिंग की और बताया कि इस तरह की लापरवाही खतरनाक एवम जानलेवा भी हो सकती है इसलिए भविष्य में पूरी सावधानी रखें। ऑपरेशन को सफल बनाने में डाॅ अरविंद वर्मा, डॉ त्रिप्ती ममगाई, डॉ मोहिता, एनेस्थेटिस्ट डॉ स्वाती, डॉ विशाल, सिस्टर आराधना ,आदि का विशेष सहयोग रहा।

—————————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

स्कूल आफ ह्यूमैनिटीज़ रहा ओवरऑल चैम्पियन

क्रिकेट बालक वर्ग में मेडिकल और बालिका वर्ग में नर्सिग सिरमौर देहरादून। श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय की वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता खेलोत्सव-2024 का रंगारंग प्रस्तुतियों...

एसजीआरआरयू क्रिकेट : फार्मेसी ने एग्रीकल्चरल साइंसेज़ को हराया

देहरादून। श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय (एसजीआरआरयू) की वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता खेलोत्सव-2024 का दूसरा दिन क्रिकेट, फुटबाॅल, वालीबाॅल, बास्केटबाॅल, शतरंज, कैरम, कबड्डी एवम् बैडमिंटन...

आप नेता ने विधानसभा गेट पर किया प्रदर्शन, गिरफ्तार

गैरसेंण में विधानसभा सत्र ना कराए जाने को लेकर रविंद्र आनंद ने विधानसभा गेट पर किया हंगामा देहरादून । मंडी समिति के पूर्व अध्यक्ष एवं...

सीएम ने सहायक लेखाकार के पद पर चयनित 67 अभ्यर्थियों को वितरित किए नियुक्ति पत्र

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास परिसर में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में लोक सेवा आयोग के माध्यम से...

गुलदार के हमलों पर सीएम धामी गंभीर

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य में मानव वन्यजीव संघर्ष की घटनाओं पर गम्भीर चिंता प्रकट की है। उन्होंने गुलदार और बाघों के...

DM ने नगर निगम ऋषिकेश का निरीक्षण कर परखी व्यवस्थाएं

देहरादून। जिलाधिकारी सोनिका ने नगर निगम कार्यालय ऋषिकेश का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी, इस दौरान जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। नगर...

श्रीमहंत देवेन्द्र दास महाराज ने टपकेश्वर महादेव में टेका मत्था

देहरादून। श्री दरबार साहिब के सज्जादानशीन श्रीमहंत देवेन्द्र दास महाराज ने मंगलवार को टपकेश्वर महादेव के दर्शन किए। मंदिर समिति के द्वारा वैदिक परंपरा...

गौचर में मुख्यमंत्री के रोड शो में उमड़ा जन सैलाब

मुख्यमंत्री ने 400 करोड़ के विकास कार्यो का लोकार्पण एवं शिलान्यास कर सीमांत जनपद चमोली को दी बड़ी सौगात। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने भोजपत्र पर...

मुख्यमंत्री ने कतर से सकुशल लौटे सौरभ वशिष्ठ और उनके परिजनों से की भेंट

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कतर से सकुशल वापस लौटे नौ सेना के पूर्व अधिकारी सौरभ वशिष्ठ को सम्मानित कर शुभकामनायें दी। मुख्यमंत्री...

शौर्य, साहस और शालीनता के प्रतीक थे जनरल रावतः रक्षा मंत्री

-द टोंस ब्रिज स्कूल में रक्षा मंत्री एवं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देश के प्रथम सीडीएस जनरल बिपिन रावत की प्रतिमा का किया...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई