Home देहरादून एवरेस्ट विजेता विंग कमांडर विक्रांत उनियाल ने सांझा किए संस्मरण

एवरेस्ट विजेता विंग कमांडर विक्रांत उनियाल ने सांझा किए संस्मरण

श्री गुरु राम राय जी महाराज व अमर शहीद नायक नायिकाओं को किया याद
श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय से मैनेजमेंट में करेंगे पी.एचडी
 श्री दरबार साहिब परिसर में बिताये समय व स्मृतियों को किया याद

देहरादून। भारत की आजादी के अमृत महोत्सव को रेखांकित करते हुए भारतीय वायु सेना के अधिकारी विंग कमांडर विक्रांत उनियाल ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी को फतह करने के अभियान को पूर्ण किया. श्री दरबार साहिब में आस्था व श्रीमहंत देवेंद्र दास जी महाराज के सानिध्य को याद करते हुए उस ऐतिहासिक क्षण को श्री गुरु राम राय जी महाराज के श्री चरणों में समर्पित किया। .काबिलेगौर है कि विंग कमांडर विक्रांत कमांडर का बचपन श्री दरबार साहिब परिसर में गुजरा है। इस उपलब्धि पर उन्होंने श्री गुरु राम राय जी महाराज का सिमरन किया व इस उपलब्धि को उनके श्री चरणों में समर्पित किया। गुरुवार को उन्होंने श्री दरबार साहिब में माथा टेका व श्रीमहंत देवेंद्र दास जी महाराज से आशीर्वाद प्राप्त किया.
श्री दरबार साहिब के श्री महंत देवेंद्र दास जी महाराज ने विंग कमांडर विक्रांत उनियाल को इस उपलब्धि पर शुभकामनाएं दीं. विंग कमांडर विक्रांत उनियाल श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय से मैनेजमेंट में पी.एचडी करेंगे.
विंग कमांडर विक्रांत उनियाल का यह अविस्मरणीय अभियान 15 अप्रैल 2022 को पड़ोसी देश नेपाल की राजधानी काठमांडू से शुरू हुआ। 21 मई 2022 को उन्होंने एवरेस्ट फतह की चोटी को फतह किया। दुनिया के सबसे ऊंचे शिखर पर पहुंचकर उन्होंने भारत के उन हजारों अमर शहीद नायक -नायिकाओं को भी याद किया जिन्हें प्रत्यक्ष या परोक्ष कारणों से अभी तक अमर शहीदों के रूप में उचित स्थान व उचित सम्मान नहीं मिल सका है।विंग कमांडर विक्रांत उनियाल ने कहा कि माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई का अभियान अपने आप में कभी न मिटने वाली सत्य लोक कथा है। आने वाली पीढ़ियों के लिए ऐसे प्रेरणादाई अभियान उन्हें जीवन में संघर्ष के लिए प्रेरित करते रहेंगे.
विंग कमांडर विक्रांत उनियाल पर्वतारोहण में उच्च शिक्षित एवम ख्यातिप्राप्त पर्वतारोही हैं।उनका प्रशिक्षण प्रतिष्ठित नेहरू इन्स्टिट्यूट ऑफ माउंटेनरिंग उत्तरकाशी, आर्मी माउंटेनरिंग सियाचीन, नेशनल इन्स्टिट्यूट ऑफ माउंटेनरिंग एंड स्लाइड स्पोर्ट्स अरुणाचल प्रदेश में संपन् हुआ। विंग कमांडर विक्रांत उनियाल ने जानकारी दी कि अत्यधिक प्रतिकूल मौसम और विपरीत परिस्थितियों में यह अभियान सफलतापूर्वक पूर्ण हुआ. माउंट एवरेस्ट में दिन के समय तापमान माइनस 10 डिग्री से माइनस 20 डिग्री रहता है जो रात के समय और आधिक गिरकर शरीर को गलाने वाली ठंड के स्तर तक पहुंच जाता है। उन्होंने कहा कि यह अभियान संयम, शारीरिक दक्षता, मानसिक सुदृढ़ता एवम कुछ कर गुजरने की इच्छा शक्ति का प्रतीक है।

————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

मुख्यमंत्री ने किया ललित शौर्य की पुस्तकों का विमोचन

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को मुख्यमंत्री आवास कैम्प कार्यालय में युवा साहित्यकार ललित शौर्य की पुस्तकों ’गंगा के प्रहरी’ एवं...

उत्तराखण्ड राज्य उच्च शिक्षा प्रवेश पोर्टल का शुभारंभ

देहरादून। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने बुधवार को मीडिया सेंटर सचिवालय देहरादून में उत्तराखंड राज्य के विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में प्रवेश...

भक्तदर्शन लिखित “गढ़वाल की दिवंगत विभूतियां’ पुस्तक का विमोचन

देहरादून। दून पुस्तकालय एवं शोध केन्द्र की ओर से पुस्तकालय के सभागार में प्रख्यात स्वाधीनता सेनानी और पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. भक्तदर्शन द्वारा लिखित...

लोकनृत्यों की प्रस्तुति के साथ भेंकलताल मेले का समापन

थराली। रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ छह दिवसीय भेंकलताल— ब्रह्मताल पर्यटन, खेल एवं सांस्कृतिक विकास मेले का मंगलवार को समापन हो गया है। अगले...

पत्रकारिता दिवस पर सात पत्रकारों को किया सम्मानित

देहरादून। उत्तरांचल प्रेस क्लब में पत्रकारिता दिवस पर छह पत्रकारों और एक न्यूज पोर्टल को पत्रकारिता की दीर्घकालीन सेवाओं, तथ्यपरक पत्रकारिता और शोधपरक पत्रकारिता...

पीएम के नेतृत्व में 9 साल का कार्यकाल सेवा, सुशासन और गरीब कल्याण को रहा समर्पित : सीएम

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को राजपुर रोड स्थित होटल में मीडिया से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में...

पत्रकारिता को बचाना हम सभी की जिम्मेदारी : सुरेखा

देहरादून। उत्तराखंड पत्रकार यूनियन की देहरादून इकाई का हिंदी पत्रकारिता दिवस समारोह में पत्रकारिता को धारदार बनाने का संकल्प लिया गया। सोमवार को उत्तरांचल प्रेस...

भेंकलताल मेले में 10 छात्रों को मिला रेनू मिश्रा स्मृति सम्मान

थराली। भेंकलताल—ब्रह्मताल पर्यटन, खेल एवं सांस्कृतिक विकास महोत्सव में 10 मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। थराली विधायक भूपाल राम टम्टा ने ग्रामीण क्षेत्र...

विधायक ने मेले को राजकीय मेला घोषित करने का दिया आश्वासन

थराली। रतगांव के तालगैर में चल रहे छह दिवसीय भेंकलताल,ब्रह्मताल पर्यटन, खेल एवं सांस्कृतिक विकास मेले को राजकीय मेला घोषित किए जाने का प्रयास...

सीएम ने सुना पीएम के मन की बात का 101वां संस्करण

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के मन की बात का 101 वां संस्करण...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई