Home विविध उत्तराखंड में विंटर टूरिज्म की अपार संभावनाएं: महाराज

उत्तराखंड में विंटर टूरिज्म की अपार संभावनाएं: महाराज

मुम्बई में तीन दिवसीय इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) का शुभारंभ

मुम्बई/देहरादून। तीन दिवसीय इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) का बुद्धवार को माया नगरी मुम्बई में प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज
और महाराष्ट्र की पर्यटन राज्य मंत्री अदिति तटकरे ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर शुभारम्भ किया।

इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) के तीन दिवसीय आयोजन का शुभारम्भ बुद्धवार को नेहरू तारामंडल वर्ली मुंबई में उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज और महाराष्ट्र की पर्यटन राज्य मंत्री अदिति तटकरे ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) में 55 स्टालों, मंडपों में उत्तराखंड सहित 16 राज्यों के लगभग 108 प्रदर्शक भाग ले रहे हैं। इसमें निजी होटल, ट्रेवल, एडवेंचर व्यवसायियों की ओर से स्टॉल लगाए गए हैं।

टूरिज्म फेयर के पहले दिन ही उत्तराखंड पर्यटन के स्टॉलों पर आगंतुओं का विशेष आकर्षण बना रहा। इन स्टॉलों में योगासन, राफ्टिंग, साइकिलिंग आदि का डेमोस्टेशन भी दिया जा रहा है।

इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर के शुभारम्भ के अवसर पर उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तराखंड राज्य में विंटर टूरिज्म की अपार संभावनाएं हैं। इसको ध्यान में रखते हुए इस वर्ष भी उत्तराखंड पर्यटन पर्यटकों के लिए विशेष तैयारियों में जुटा है। उन्होने बताया कि धार्मिक पर्यटन के साथ शीतकालीन पर्यटन और साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए उत्तराखण्ड पर्यटन की ओर से जिला प्रशासन के साथ मिलकर नैनीताल, भीमताल, पंगोट, मसूरी समेत कई स्थानों पर विंटर कार्निवाल आयोजित किया जाता है।पर्यटन मंत्री ने कहा कि उत्तराखंड का ऑली अपनी प्राकृतिक सुंदरता के साथ-साथ स्कीइंग के लिए भी बेहद लोकप्रिय है। जबकि ट्रैकिंग के शौकीनों के लिए केदारकांता ट्रैक भी उत्तराखंड के गढ़वाल क्षेत्र में ही है। ऐसे ही चकराता, नाग टिब्बा, मसूरी, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ की सुंदरता देश-विदेश के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

उत्तराखण्ड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि केदारनाथ समेत चारधामों के कपाट हर साल अक्टूबर-नवंबर में सर्दियों में बंद कर दिए जाते हैं, जो अगले साल पुनः अप्रैल-मई में भक्तों के लिए खोल दिए जाते हैं। लेकिन सर्दियों के मौसम में चारों धामों के आसपास कई सुंदर पर्यटन स्थल हैं, जो देश-दुनिया के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं।

उन्होने कहा कि सर्दियों में भगवान केदारनाथ की पूजा ऊखीमठ, बद्रीनाथ की पूजा पांडुकेश्वर, मां गंगोत्री की पूजा मुखवा और यमनोत्री की पूजा खरसाली में करते हुए श्रद्धालु व पर्यटक यहां के रमणीक दृष्यों का आनंद ले सकते हैं।

इस मौके पर उपस्थित उत्तराखंड के पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि मुंबई से हर साल लाखों पर्यटक उत्तराखंड का रूख करते हैं। कोरोनाकाल में पर्यटकों को स्वच्छ और सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने के लिए उत्तराखंड सरकार ने होमस्टे योजना पर तेजी से काम किया है। जहां पर्यटक अपनी आरामदायक छुट्टियां बिताने के साथ वर्क फ्रॉम होम भी कर रहे हैं।
उन्होने बताया कि बीते कुछ सालों में सरकार ने उत्तराखंड पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम किया है। कोरोना गाइडलाइन को ध्यान में रख उत्तराखंड में पर्यटन गतिविधियों को एक बार फिर से शुरू किया गया है। टूरिज्म फेयर में उत्तराखंड की पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अमृता रावत सहित उत्तराखंड के स्टॉलों का प्रतिनिधत्व करने वाले पर्यटन के अपर निदेशक विवेक सिंह चौहान आदि अनेक लोग मौजूद थे।

——————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

फिल्म अभिनेता नाना पाटेकर ने सीएम से की शिष्टाचार भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में फिल्म अभिनेता नाना पाटेकर ने शिष्टाचार भेंट की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने नाना...

खेल महाकुंभ-2022 का आगाज

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने शनिवार को राजीव गांधी नवोदय विद्यालय रायपुर से खेल महाकुंभ-2022 का शुभारंभ किया। युवा कल्याण...

सीएम ने श्रीकोट पहुँचकर अंकिता के परिजनों से घर पर जाकर की मुलाकात, बोले -दोषियों को दिलाई जाएगी कड़ी सजा

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज पौड़ी के श्रीकोट में अंकिता भंडारी के परिजनों से मुलाकात की और भरोसा दिलाया कि पूरी सरकार...

अनिल चौहान बने देश के नये सीडीएस, सीएम ने दी बधाई

देहरादून।   लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (रिटायर्ड) को देश का नया चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (CDS) नियुक्त किया है। वह मूल रूप से उत्‍तराखंड के पौड़ी जनपद के ग्राम गवाणा, पट्टी चलनस्यू ब्लॉक खिर्सू के रहने वाले हैं।सेना की पूर्वी कमान के प्रमुख (जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ) लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान सेना में महत्वपूर्ण पदों पर रहे वह 40 साल की शानदार सेवा के बाद 31 मई 2021 को सेवानिवृत हो गए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (सेनि) को चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (CDS) नियुक्त किए जाने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी है सीएम धामी ने कहा कि उत्तराखंड के सपूत को चीफ आफ डिफेंस स्टाफ नियुक्त किए जाने पर प्रत्येक उत्तराखंडवासी गौरान्वित है। उन्होंने कहा कि "हमें पूर्ण विश्वास है कि आपके कुशल नेतृत्व में भारतीय सेना सदैव की भांति राष्ट्रीय सुरक्षा के क्षेत्र में नया कीर्तिमान स्थापित करेगी। -----------------

अंकिता के परिजनों को 25 लाख की आर्थिक सहायता दी जाएगी, सीएम ने दिए निर्देश

अपराधियों को दिलाई जाएगी कठोरतम सजा त्वरित न्याय के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि दिवंगत अंकिता भण्डारी...

मसूरी के जॉर्ज एवरेस्ट में शुरू हुई हिमालय दर्शन सेवा

विश्व पर्यटन दिवस के मौके पर हिमालय दर्शन सेवा का किया शुभारंभ देहरादून/मसूरी। विश्व प्रसिद्ध हिल स्टेशन मसूरी के जॉर्ज एवरेस्ट से अब पर्यटक हेलीकॉप्टर...

सीएम ने की केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री से भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी से भेंट की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री...

उत्तराखंड को मिला बेस्ट टूरिज्म डेस्टिनेशन अवार्ड

पर्यटन के सर्वांगीण विकास के लिए भी प्रदेश को प्रथम पुरस्कार उपराष्ट्रपति के हाथों लिया श्री सतपाल महाराज ने अवार्ड   देहरादून/नई दिल्ली। विश्व पर्यटन दिवस के...

आयोग ने समूह ‘ग’ की 16 भर्ती परिक्षाओं का कलेंडर किया जारी

देहरादून। उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग को प्रेषित समूह ग की 23 परीक्षाओं के लिए अतिरिक्त परीक्षा कैलेंडर जारी कर दिया गया है।  उत्तराखंड लोक सेवा...

लकी अली ने अपनी सुरीली आवाज से दूनवासियों को किया मंत्रमुग्ध

देहरादून। प्रसिद्ध भारतीय गायक, गीतकार, संगीतकार और अभिनेता लकी अली ने आज देहरादून में ओल्ड मसूरी रोड स्थित मान एस्टेट में लाइव प्रस्तुति दी।...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई