Home धर्म-संस्कृति योगी प्रियव्रत अनिमेष के जीवन जीने के ये 5 मूल मंत्र बदल...

योगी प्रियव्रत अनिमेष के जीवन जीने के ये 5 मूल मंत्र बदल देंगे आपका जीवन

देहरादून। हिमाचल के पञ्च दशनामी जूना सलोगड़ा सोलन के महंत ब्रह्मलीन स्वामी देवनारायण पुरी से दीक्षित योगी प्रियव्रत अनिमेष ने गुरूवार को प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में मंत्र “ऊँ नमः शिवाय” की महिमा और जीवन जीने के 5 मूल मन्त्रों पर प्रकाश डाला। योगीजी भगवान शिव के उपासक हैं। उनका कहना है कि शिव न सिर्फ इस समस्त संसार, बल्कि पूरे परिचित और अपरिचित ब्रह्माण्ड के मूल हैं। यदि ब्रह्माण्ड को समझना है तो शिव को समझना होगा और योगीजी के अनुसार शिव को समझने का सबसे आसान रास्ता शिवजी का मंत्र “ऊँ नमः शिवाय” है। यह मंत्र सनातन पद्धति का बच्चा बच्चा जानता है। यह मंत्र देखने और सुनने में जितना सरल है, इसकी सिद्धि उतना ही असरदार है। शिव के नाम की इसी महत्ता और इस मंत्र से लोक कल्याण के लिए वर्तमान 2021 के कुंभ में देवभूमि उत्तराखंड के हरिद्वार में शिव आह्वान लोक कल्याण अनुष्ठान का आयोजन स्वामी प्रियव्रत अनिमेष द्वारा किया जा रहा है।

योगी जी के अनुसार, मनुष्य होना ही जीव होने की सबसे बड़ी और सुंदर बात है, किंतु मनुष्यों में योगी होना मनुष्यता की पराकाष्ठा है। योगी प्रियव्रत अनिमेष का उद्देश्य समाज को मनुष्यता और आध्यात्म में परस्पर समंवय को समझाना है। उनके इस लक्ष्य से बहुत कम समय में बड़ी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं। योगी प्रियव्रत अनिमेष की 5 बाते जो बदल देगी आपका जीवन जिसमें हैं। मनुष्य में असीमित ऊर्जा समाहित है, यदि मनुष्य अपनी ऊर्जा को नियंत्रित कर ले तो वह और अधिक प्रभावशाली बन सकता है। किसी भी व्यक्ति को स्वयं को किसी से नीचे नहीं समझना चाहिए क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति अपने आप में श्रेष्ठ है। हमारे पास जीतने संसाधन है हमें उन्हे कभी भी कम नहीं आंकना चाहिए। हमें अपनी दिनचर्या में ध्यान लगाने के साथ-साथ शिव आराधना को भी शामिल करना चाहिए। विशेष रात्रि एवं नक्षत्र योग के अवसर पर भस्म पूजा करना बेहद लाभकारी होता है।

योगी के अनुसार, प्राण प्रतिष्ठा अति महत्त्वपूर्ण है। मनुष्य अक्सर मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा करता है, किन्तु असल में प्राण प्रतिष्ठा का सार मनुष्य के स्वयं में प्राणो को प्रतिष्ठित करने, अर्थात स्वयं का साक्षात्कार करने में है। मनुष्य को पहचानना चाहिए कि जो शक्ति प्रकृति और उसके पदार्थों जैसे, हवा, पानी, अग्नि आदि में निहित है, वही शक्ति उसके स्व में भी प्रतिष्ठित है।

योगी जी को उनके गुरुदेव से संन्यास जीवन का नाम “प्रियवृत” मिला । उन्हें सामाजिक उत्थान के कार्यों के लिए समाज द्वारा ‘अनिमेष’ नाम प्रदान किया गया है, इस हेतु उन्हें आज स्वामी श्री प्रियव्रत अनिमेष के नाम से जाना जाता है।

शिव आह्वान-लोक कल्याण अनुष्ठान का आयोजन रविवार 18 अप्रैल को प्रातः 6 बजे से लेकर 9:30 तक नेचरोविले हॉस्पिटैलिटी ऋषिकेश में किया जाएगा। इस आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में अंडमान के सांसद कुलदीप राय शर्मा और देवरिया के सांसद रमापति राम त्रिपाठी की उपस्थिति संभावित है। मुख्य वक्ता के रूप में नेचरोविले हॉस्पिटैलिटी ऋषिकेश (उत्तराखंड) संस्थापक पंकज कुमार अग्रवाल, समाजसेवी विवेक तिवारी और व्यवसायी श्रीमती मोनिका पंवार उपस्थित होंगे।
——————————————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सीएम ने श्रीकोट पहुँचकर अंकिता के परिजनों से घर पर जाकर की मुलाकात, बोले -दोषियों को दिलाई जाएगी कड़ी सजा

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज पौड़ी के श्रीकोट में अंकिता भंडारी के परिजनों से मुलाकात की और भरोसा दिलाया कि पूरी सरकार...

अनिल चौहान बने देश के नये सीडीएस, सीएम ने दी बधाई

देहरादून।   लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (रिटायर्ड) को देश का नया चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (CDS) नियुक्त किया है। वह मूल रूप से उत्‍तराखंड के पौड़ी जनपद के ग्राम गवाणा, पट्टी चलनस्यू ब्लॉक खिर्सू के रहने वाले हैं।सेना की पूर्वी कमान के प्रमुख (जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ) लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान सेना में महत्वपूर्ण पदों पर रहे वह 40 साल की शानदार सेवा के बाद 31 मई 2021 को सेवानिवृत हो गए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (सेनि) को चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (CDS) नियुक्त किए जाने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी है सीएम धामी ने कहा कि उत्तराखंड के सपूत को चीफ आफ डिफेंस स्टाफ नियुक्त किए जाने पर प्रत्येक उत्तराखंडवासी गौरान्वित है। उन्होंने कहा कि "हमें पूर्ण विश्वास है कि आपके कुशल नेतृत्व में भारतीय सेना सदैव की भांति राष्ट्रीय सुरक्षा के क्षेत्र में नया कीर्तिमान स्थापित करेगी। -----------------

अंकिता के परिजनों को 25 लाख की आर्थिक सहायता दी जाएगी, सीएम ने दिए निर्देश

अपराधियों को दिलाई जाएगी कठोरतम सजा त्वरित न्याय के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि दिवंगत अंकिता भण्डारी...

मसूरी के जॉर्ज एवरेस्ट में शुरू हुई हिमालय दर्शन सेवा

विश्व पर्यटन दिवस के मौके पर हिमालय दर्शन सेवा का किया शुभारंभ देहरादून/मसूरी। विश्व प्रसिद्ध हिल स्टेशन मसूरी के जॉर्ज एवरेस्ट से अब पर्यटक हेलीकॉप्टर...

सीएम ने की केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री से भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी से भेंट की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री...

उत्तराखंड को मिला बेस्ट टूरिज्म डेस्टिनेशन अवार्ड

पर्यटन के सर्वांगीण विकास के लिए भी प्रदेश को प्रथम पुरस्कार उपराष्ट्रपति के हाथों लिया श्री सतपाल महाराज ने अवार्ड   देहरादून/नई दिल्ली। विश्व पर्यटन दिवस के...

आयोग ने समूह ‘ग’ की 16 भर्ती परिक्षाओं का कलेंडर किया जारी

देहरादून। उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग को प्रेषित समूह ग की 23 परीक्षाओं के लिए अतिरिक्त परीक्षा कैलेंडर जारी कर दिया गया है।  उत्तराखंड लोक सेवा...

लकी अली ने अपनी सुरीली आवाज से दूनवासियों को किया मंत्रमुग्ध

देहरादून। प्रसिद्ध भारतीय गायक, गीतकार, संगीतकार और अभिनेता लकी अली ने आज देहरादून में ओल्ड मसूरी रोड स्थित मान एस्टेट में लाइव प्रस्तुति दी।...

उत्तराखंड टीम में विशाल और अभय का चयन

दून बलूनी क्रिकेट एकादमी के हैं दोनों खिलाड़ी  सैयद मुश्ताक अली ट्राफी में लेंगे भाग देहरादून। सैयद मुश्ताक अली ट्राफी के लिए उत्तराखंड की सीनियर टीम...

सीएम ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्म दिवस पर दी उन्हें श्रद्धांजलि

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नगला तराई में अपने निजी आवास पर पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्म दिवस पर उनके...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई