Home साहित्य भाषा के काम सरकार के भरोसे नहीं हो सकते, समाज को आगे...

भाषा के काम सरकार के भरोसे नहीं हो सकते, समाज को आगे आना होगा : नेगी

अधीनस्थ चयन सेवा आयोग में स्थानीय भाषाओं को तरजीह दी जाए : धस्माना
गढ़वाली को आठवीं अनुसूची में शामिल किया जाए : शास्त्री
देहरादून। विनसर प्रकाशन के रजत जयंती वर्ष के अवसर पर मातृभाषा गढ़वाली के लेखकों की आज राजधानी में एक गोष्ठी आयोजित की गयी। गोष्ठी में गढवाली में प्रकाशित प्राथमिक कक्षाओं के पाठ्यक्रम की पुस्तकों धगुलि , हंसुली , छुबकी , पैजबी और झुमकी के लेखकों तथा इन पुस्तकों में चित्रांकन करने वाले चित्रकारों ने प्रतिभाग किया। गोष्ठी में लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी द्वारा हिंदी एवं अंग्रेजी में प्रकाशित उत्तराखंड ईयर बुक जारी की गई। लोकगायक नरेन्द्र सिंह नेगी ने कहा कि मातृभाषा गढ़वाली में पठन-पाठन से भाषा आगे बढ़ेगी। बच्चों को अपनी भाषा में पठन सामग्री उपलब्ध होगी तो वे अपनी भाषा के महत्वपूर्ण पक्षों को भी जान सकेंगे। इसके लिए गढ़वाली भाषा बोलने वाले समाज को आगे आना होगा। भाषा के काम सरकार के भरोसे नहीं हो सकते इसके लिए समाज को आगे आना होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में निरंतर लिखे जाने की आवश्यकता है। लिखे जा रहे साहित्य का मानकीकरण आने वाले समय मे विद्वान करते रहेंगे अभी तो निरंतर कार्य किये जाने की आवश्यकता है।
गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए इतिहासकार डॉ योगेश धस्माना ने कहा कि अधीनस्थ चयन सेवा आयोग में स्थानीय भाषाओं को तरजीह देने से जहाँ परीक्षार्थी अपनी भाषा को पढ़ेंगे वहीं भाषा रोजगार से भी जुड़ जाएगी। उन्होंने कहा कि जब भाषा रोजगार से जुड़ेगी तो उसकी उपयोगिता बढ़ जाती है और भाषा में आवश्यकतानुसार प्राण प्रतिष्ठा भी हो जाती है।
गोष्ठी में वरिष्ठ पत्रकार दिनेश शास्त्री सेमवाल ने कहा कि भाषाएँ चुनाव जीतने का माध्यम नहीं हैं इनका उपयोग सिर्फ़ के लिए न हो लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा हो रहा है। उत्तराखंड में भाषाओं को लेकर संजीदगी से कार्य किये जाने की आवश्यकता है तभी भाषाएं दीर्घजीवी होंगी। उन्होंने कहा कि अपनी भाषाओं को बचाने की पहल अपने घर से करने की आवश्यकता है तभी भाषा जिंदा रह सकती है।
इस अवसर पर गढवाली साहित्यिकार गिरीश सुन्द्रियाल ने कहा कि मातृभाषा गढवाली का प्राथमिक कक्षाओं का पाठ्यक्रम बहुत ही बेहतरीन है लेकिन दुर्भाग्य से इसे अभी तक पूरे क्षेत्र में शुरू नहीं किया जा सका है। गोष्ठी में विचार व्यक्त करते हुए डॉ जगदम्बा प्रसाद कोटनाला ने कहा कि भाषा को समृद्ध किये जाने के दृष्टि से लेखकों द्वारा निरंतर लेखन किया जाना चाहिए।
गढवाली कवियित्री बीना बेंजवाल ने कहा कि प्राथमिक कक्षाओं के लिए तैयार किया गया गढवाली भाषा का पाठ्यक्रम एनसीईआरटी और एससीईआरटी के मानकों पर खरी हैं और पुस्तकों की पाठ्य सामग्री बहुत ही उत्तम है। इस गोष्ठी में इस पाठ्यक्रम को तैयार करने वाले लेखकों और चित्रकारों को विनसर प्रकाशन द्वारा सम्मान राशि प्रदान की गयी। गोष्ठी का संचालन गणेश खुगशाल गणी ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

ब्रेकिंग: दून में ट्रक के नीचे दबे कई लोग, देखें वीडियो

देहरादून। देहरादून के चंद्रमणि चौक पर एक्सीडेंट की ख़बर है। जहां कई लोग ट्रक के नीचे दबने की सूचना आ रही है। सूचना पर...

श्रद्धापूर्वक मनाया गया गुरु तेग बहादुर का शहीदी दिवस

देहरादून। गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा, आढ़त बाजार, देहरादून के तत्ववाधान में श्री गुरु तेग बहादुर का शहीदी दिवस कथा - कीर्तन के रूप...

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौड़ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्स्ड विंग एयरक्राफ्ट सेवाएं शुरू करने के लिए...

यूपीसी पैंथर्स बनी अजय गौतम मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट का विजेता

उत्तरांचल प्रेस क्लब की  ओर से आयोजित टूर्नामेंट में यूपीसी लॉयंस को छह विकेट से हराया देहरादून। उत्तरांचल प्रेस क्लब की ओर से आयोजित अजय गौतम...

खेलों में भी हैं बेहतर भविष्य की संभावनाएं : रेखा आर्या

खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया जिला स्तरीय खेल महाकुंभ का शुभारंभ देहरादून। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने देहरादून स्थित पवेलियन ग्राउंड...

नौसेना में अफसर बना पौड़ी का लाल अभिनव

- नेवल अकादमी में प्रशिक्षण हासिल कर नौसेना में पाया कमीशन - एकेश्वर ब्लाक के चमाली गांव का निवासी है सेकेंड ले. अभिनव रावत देहरादून। पौड़ी...

सीनियर नेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप के लिए प्रदेश की टीम चयनित

देहरादून। 72वीं सीनियर नेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप के लिए उत्तराखंड की टीम का चयन कर लिया है। टीम की कमान ओएनजीसी के उदय भान सिंह...

10 दिसंबर को होगी आइएमए में पासिंग आउट परेड

देहरादून। भारतीय सैन्य अकादमी (आइएमए) में पासिंग आउट परेड 10 दिसंबर को होगी। इस दौरान देश-विदेश के जेंटलमैन कैडेट सेना का अभिन्न अंग बनेंगे।...

टेबल टेनिस में तमिलनाडू और पश्चिम बंगाल रहे चैंपियन

देहरादून। उत्तराखण्ड डाक परिमण्डल की ओर से आयोजित 38वीं अखिल भारतीय डाक टेबिल-टेनिस प्रतियोगिता के महिला टीम में तमिलनाडू और पुरूष वर्ग में पश्चिम...

सशक्त उत्तराखण्ड @ 25 को साकार करेगा चिंतन शिविरः सीएम

 महत्वपूर्ण सुझावों को कैबिनेट में लाया जाएगा देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी, मसूरी में सशक्त उत्तराखण्ड...

Recent Comments

हेमवती नंदन कुकरेती महामंत्री हिन्दी साहित्य समिति देहरादून on हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ शर्तों के साथ हटाई